समाचार
जियोमार्ट संग जस्ट डायल की कई उपभोक्ता पेशकशों को एकीकृत कर आएगी सुपर ऐप

मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस उद्योग लिमिटेड (आरआईएल) की कंपनी रिलायंस रिटेल ने अपने ई-कॉमर्स एप्लिकेशन जियोमार्ट में बड़े परिवर्तन कर रहा है। हाल ही में अधिग्रहीत जस्ट डायल से कई उपभोक्ता पेशकशों को एकीकृत करके एक सुपर ऐप में बदलने की तैयारी है।

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, कथित तौर पर उक्त ऐप उपभोक्ताओं की हर संभव आवश्यकता के लिए एकल खिड़की के रूप में कार्य करेगी। इसे वॉट्सैप के साथ भी एकीकृत किया जाएगा जैसा कि चीनी सोशल ई-कॉमर्स मंच वीचैट में होता है।

मुकेश अंबानी ने हाल ही में वॉट्सैप और जियोमार्ट के बीच एकीकरण के ट्रायल की भी घोषणा की थी। कहा जाता है कि कंपनी वर्तमान में ऐप की अंतिम रूपरेखा पर काम कर रही है, जिसे सरकार द्वारा ई-कॉमर्स नीति पर स्पष्टता की घोषणा के बाद लॉन्च करने की योजना है।

हालाँकि, यह भी गौर किया जाना चाहिए कि रिलायंस रिटेल ने गत माह की शुरुआत में जस्ट डायल में बहुमत भागीदारी प्राप्त की थी। इसने कंपनी में 3,497 करोड़ रुपये का निवेश किया था। इसके अतिरिक्त, इसके एक ही छतरी के नीचे आने वाले एप्लिकेशन माइ जियो में पहले से ही 20 से अधिक उपभोक्ता अनुप्रयोगों का एक समूह है।