समाचार
अनिल देशमुख और बेटे ऋषिकेश को ईडी ने फिर से पूछताछ के लिए 2 अगस्त को बुलाया

महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख और उनके बेटे ऋषिकेश के लिए मुश्किलें जारी हैं क्योंकि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कथित भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग मामले में समन भेजकर दोनों को फिर से पूछताछ के लिए बुलाया है।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत दोनों को 2 अगस्त को व्यक्तिगत रूप से ईडी के समक्ष पेश होना है। यह विकास तब आया, जब अनिल देशमुख ने सर्वोच्च न्यायालय में गिरफ्तारी से बचने के लिए अनुरोध किया था लेकिन न्यायालय ने राहत देने से मना कर दिया था।

बता दें कि इससे पूर्व, एनसीपी नेता को ईडी ने तीन बार नोटिस भेजा लेकिन वह हर बार पेश होने से बचते रहे। उनकी पत्नी और बेटे को भी पूछताछ के लिए बुलाया जा चुका है लेकिन वे उपस्थित नहीं रहे। ईडी ने अनिल देशमुख की 4.20 करोड़ रुपये की संपत्ति भी पीएमएलए के तहत जब्त की थी।

गत माह ईडी ने अनिल देशमुख के मुंबई और नागपुर स्थित परिसरों में छापेमारी की थी। इसके अतिरिक्त, उनके सहयोगियों और कुछ अन्य के यहाँ भी तलाशी अभियान चलाया गया था। बाद में ईडी ने अनिल देशमुख के निजी सचिव संजीव पलांडे और निजी सहायक कुंदन शिंदे को गिरफ्तार भी किया था।