समाचार
नेशनल हेराल्ड मामले में ईडी ने राहुल गांधी से लगातार तीसरे दिन पूछताछ की

नेशनल हेराल्ड मनी लॉन्ड्रिंग मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी लगातार तीसरे दिन बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष प्रस्तुत हुए।

राहुल गांधी मध्य दिल्ली के एपीजे अब्दुल कलाम रोड स्थित ईडी मुख्यालय में सुबह करीब 11.35 बजे अपने जेड प्लस श्रेणी के सीआरपीएफ सुरक्षा काफिले के साथ पहुँचे। उनके साथ उनकी बहन और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा भी थीं।

वे 11 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ के बाद मंगलवार रात 11:30 बजे ईडी कार्यालय से निकले थे।

जाँच एजेंसी के कार्यालय के आसपास पुलिस और अर्धसैनिक बलों की एक बड़ी टुकड़ी तैनात की गई और दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू है।

वायनाड के कांग्रेस सांसद ने पिछले दो दिनों में ईडी के कार्यालय में लगभग 21 घंटे बिताए हैं। वहाँ उनसे कई सत्रों में पूछताछ की गई और धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत उनका बयान दर्ज किया गया।

अधिकारियों ने कहा कि राहुल गांधी से मंगलवार को पूछताछ पूरी नहीं हो सकी थी इसलिए उन्हें बुधवार को बयान दर्ज करवाने के लिए बुलाया गया।

अब तक हुई पूछताछ के दौरान सूत्रों ने बताया कि यंग इंडियन कंपनी के निगमन, नेशनल हेराल्ड अखबार के संचालन, कांग्रेस द्वारा एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) को दिए गए ऋण और न्यूज़ मीडिया प्रतिष्ठान में राशि स्थानांतरण को लेकर करीब 15-16 सवाल राहुल गांधी से किए गए।

राहुल गांधी की माँ और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, जो वर्तमान में कोविड से संबंधित मुद्दों के कारण दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती हैं, को भी एजेंसी ने 23 जून को मामले में पूछताछ के लिए बुलाया है।