अर्थव्यवस्था
खाद्य पदार्थों के दामों में गिरावट के साथ महंगाई 2.05 प्रतिशत के निचले स्तर पर

सरकार द्वारा मंगलवार (12 फरवरी) को जारी किए गए डाटा के अनुसार जनवरी के माह में मुद्रास्फीति घटकर 2.05 प्रतिशत हो गई, प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया  ने बताया। महंगाई के घटने ता कारण सब्ज़ियों और अंडों जैसी वस्तुओं के दामों में गिरावट बताया जा रहा है।

अर्थशास्त्री उम्मीद कर रहे थे कि मुद्रास्फीति दर 2.48 प्रतिशत होगी लेकिन महंगाई उनकी अपेक्षा से भी अधिक घटी है। दिसंबर में ग्राहक मूल्य सूचकांक (सीपीआई) 2.11 प्रतिशत था।

रिपोर्ट के अनुसार वर्तमान मुद्रास्फीति दर रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के छठे माह में मध्य सत्र लक्ष्य के अनुकूल है। जून 2017 के बाद से यह सबसे कम महंगाई दर है।

इसके साथ ही दिसंबर 2018 के लिए औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) 133.7 रहा जो दिसंबर 2017 की तुलना में 2.4 प्रतिशत अधिक है।