समाचार
ज्ञानवापी मस्जिद- सर्वेक्षण में शिवलिंग मिलने का दावा, केशव प्रसाद मौर्य ने किया ट्वीट

विश्व हिंदू परिषद् के अंतर-राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने दावा किया कि वाराणसी के ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वेक्षण के दौरान एक कमरे में शिवलिंग प्राप्त हुआ है।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, उत्तर प्रदेश के उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने भी ट्वीट कर सच सामने आने की बात कही है। उन्होंने ट्वीट किया, “सत्य को आप कितना भी छि‍पा लीजिये लेकिन एक दिन सामने आ ही जाता है क्योंकि सत्य ही शिव है। बाबा की जय, हर हर महादेव।”

आलोक कुमार ने कहा, “यह खुशी का विषय है कि सर्वेक्षण के दौरान दोनों पक्षों के वकीलों की उपस्थिति में शिवलिंग मिला। इस वजह से वह स्थान जहाँ शिवलिंग है, वह मंदिर है। वह अब भी है और 1947 में भी था। यह सिद्ध हो चुका है। मैं आशा करता हूँ कि इस तरह के साक्ष्य मिलने पर अब सारे देशवासी इसे स्वीकार करेंगे, इसका आदर करेंगे और इसकी जो स्वाभाविक परिणीतियाँ हैं, उस तरफ भी देश बढ़ेगा।”

अब न्यायालय ने उस हिस्से को संरक्षित कर लिया है। पुलिस अधिकारियों की ज़िम्मेदारी निर्धारित की है कि वहाँ पर बिल्कुल भी छेड़छाड़ ना हो।

विश्व हिन्दू परिषद् के कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा, “हम आशा करेंगे की यह विषय परिणाम तक पहुँचे क्योंकि मामला अभी न्यायालय में है। न्यायालय का निर्णय आने के बाद हम इसके बारे में विचार करेंगे और तब तय करेंगे कि अगले कदम कौन से उठाएँगे।”

बता दें कि स्थानीय न्यायालय के आदेश पर दोनों पक्षों की उपस्थिति में ज्ञानवापी मस्जिद में तीन दिनों तक चला सर्वेक्षण सोमवार को पूरा हो गया। अब इसकी वीडियोग्राफी रिपोर्ट 17 मई से पहले न्यायालय में प्रस्तुत की जाएगी और 17 मई को सुनवाई होगी।