समाचार
भारत के टियर-2 और टियर-3 शहरों में तेज़ी से बढ़ रहा डिजिटल भुगतान- रेज़रपे रिपोर्ट

पेमेंट गेटवे रेज़रपे की प्रकाशित रिपोर्ट बताती है कि द्वितीय और तृतीय स्तर वाले भारतीय शहरों में डिजिटल भुगतान एक मजबूत गति से बढ़ रहा है। इस तरह के लेन-देन में गत 250 दिनों की अवधि के दौरान देखी गई दरों की तुलना में दिए गए क्षेत्रों में 30 नवंबर 2020 से 6 अगस्त 2021 तक 80 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

रिपोर्ट से पता चलता है कि प्रत्येक क्षेत्र ने उपरोक्त समय सीमा में आवश्यक मापदंडों में सकारात्मक वृद्धि दर्शाई है। यह बताता है कि भुगतान के डिजिटल तरीकों के संबंध में स्वीकार्यता और नवाचार भी बढ़ रहा है।

बिज़नेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के अनुसार, रेज़रपे के निष्कर्षों से पता चलता है, “व्यवसाय के लिए विशेष रूप से द्वितीय और तृतीय स्तर के शहरों से डिजिटल भुगतान में एक बड़ा बढ़ावा दिखा है, जो पहले 250 दिनों से अगले 250 दिनों तक 40 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाता है। ऐसे में बाद में भुगतान करने और ईएमआई जैसी सुविधा वाले विकल्पों की मांग बढ़ है और पहले ही 220 प्रतिशत की वृद्धि दर्शा चुकी है।”

अध्ययन में बताया गया है कि कोविड से संबंधित प्रतिबंधों की शुरुआत के बाद से ही डिजिटल भुगतान वित्तीय आधार के रूप में उभरा है। इसने इस तथ्य पर जोर दिया कि बड़े पैमाने पर लोगों और व्यवसायों ने डिजिटल जागरूकता और उनकी समग्र उपस्थिति की आवश्यकता को समझा है।