समाचार
यूएन मानवाधिकार परिषद् से रूस, चीन और पाकिस्तान को बाहर करने की उठी मांग

जिनेवा में मानवाधिकारों और लोकतंत्र के शिखर सम्मेलन 2022 से पूर्व यूनाइटेड नेशन वॉच के कार्यकारी निदेशक हिलेल न्यूअर ने रूस, चीन और पाकिस्तान को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद् से बाहर करने की अपील की है।

न्यूज़-18 की रिपोर्ट के अनुसार, हिलेल न्यूअर ने रूस को यूक्रेन पर हमला करने, चीन को मानवाधिकारों का उल्लंघन करने और पाकिस्तान को आतंकवाद के लिए ज़िम्मेदार ठहराते हुए यह आग्रह किया है।

जिनेवा में आयोजित 14वें शिखर सम्मेलन में उन्होंने कहा, “हम आज अति साधारण क्षण में मिल रहे हैं। यह इतिहास में दूसरी बार होगा, जब यूएनएससी के सदस्यों को गुरुवार को परिषद् से निकाला जा सकता है। अमेरिका ने घोषणा की कि यूक्रेन व यूरोपीय देशों के साथ मिलकर काम करेंगे और रूस को मानवाधिकार परिषद् से  बाहर निकालने का आह्वान करेंगे।

संयुक्त राष्ट्र वॉच के कार्यकारी निदेशक ने दावा किया कि रूस को मानवाधिकार परिषद् से बाहर किया जाना तय है। सिर्फ कुछ ही देश इसके विरुद्ध मतदान करेंगे। जिनेवा शिखर समिट में हम उन शोषितों को सशक्त करते हैं, जो अपने लोगों के लिए स्वतंत्रता और मानवीय गरिमा के नाम पर आवाज़ उठाने का साहस करते हैं।

इससे पूर्व, संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत लिंडा थॉमस ग्रीनफील्ड ने कहा था, “यूएस अब यूक्रेन व यूरोपीय देशों के साथ मिलकर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद् से रूस के निलंबन की मांग करेगा।”