शिक्षा-नौकरी
डेल्हीवरी ने मालिकाना विशिष्ट पता पहचान प्रणाली हेतु दूसरा यूएस पेटेंट प्राप्त किया

देश की लॉजिस्टिक्स सेवा प्रदाता डेल्हीवरी को उसके मालिकाना विशिष्ट पता पहचान (यूएआईडी) प्रणाली के लिए यूएस पेटेंट दिया गया है।

कंपनी ने बुधवार को एक नियामकीय फाइलिंग में कहा, “पेटेंट- पते के लिए एक विशिष्ट पहचान प्रदान करने की प्रणाली और विधि को एक ही पते के विभिन्न रूपों की विशिष्ट रूप से पहचान करने में डेल्हीवरी के नवाचार को सम्मिलित करता है।”

डेल्हीवरी को अलग-अलग चैनलों से घटती-बढ़ती संरचनाओं और वर्तनी में एक ही पता मिलता है। इससे यूएआईडी टूट जाती है और प्रत्येक नए एड्रेस स्ट्रिंग की तुलना पहले से सेवा दिए गए स्थान के साथ करता है। इसके माध्यम से हम सटीक रूप से मैप करते हुए समय पर आपूर्ति कर सकते हैं, उसी पते पर पैकेज भेज सकते और अधिक सेवा दक्षता प्राप्त कर सकते हैं।

डेल्हीवरी के कार्यकारी निदेशक और मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी कपिल भारती ने कहा, “23,000 से अधिक ग्राहकों को सेवा प्रदान करते हुए हम दिन-प्रतिदिन के आधार पर असंरचित डाटा का सामना करते हैं। दो पेटेंट हमें स्थानों की सुगमता में सुधार करने में सहायता करते हैं।”

कंपनी के प्रमुख (डाटा उत्पाद) राजीव दिनेश ने कहा, “हर बार जब हम एक सफल आपूर्ति या पिकअप करते हैं तो हम स्थान, आपूर्ति के समय, संपत्ति के प्रकार आदि के बारे में समृद्ध जानकारी एकत्र करते हैं। हमारी मशीन लर्निंग प्रणाली हमें यह पहचानने में सहायता करती है कि डेल्हीवरी लिमिटेड, सेक्टर- 44 गुरुग्राम -122001 उसी पते उल्लेख कर रहा है, जो प्लॉट-5, सेक्टर-44, गुड़गाँव, ताज सिटी सेंटर- 122003 के पास है और वहाँ डेल्हीवरी पहले ही सेवा दे चुका है।

मई में एडफिक्स की घोषणा के बाद कंपनी को यह दूसरा पेटेंट मिला है।

डेल्हीवरी ने मई में पते के सत्यापन और भौगोलिक रूप से सटीक स्थान मानचित्रण प्रणाली में अपने नवाचार के लिए यूएस पेटेंट प्राप्त किया था।