रक्षा
नौसेना में वीआईपी संस्कृति को समाप्त करने के लिए एडमिरल ने जारी किए निर्देश

सांकेतिक और पारंपरिक रीतियों के दिखावटीपन को कम करने के लिए नव नियुक्त नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने एक निर्देश पत्र जारी किया है जो सैन्य बल के सभी पदों के बीच भाईचारे को प्रोत्साहित करता है, द ट्रिब्युन  ने रिपोर्ट किया।

वीवीआईपी व्यक्तियों के कार का द्वार खोलने से लेकर एक प्रकार की क्रॉकरी और कटलरी में खाना परोसने तक एडमिरल सिंह ने कुल 26 निर्देश दिए हैं।मंगलवार (4 जून) को जारी इस निर्देश में नौसेना प्रमुख ने कहा, “दीप प्रज्ज्वलन जैसे धर्म प्रेरित कृत्य और माला पहनाना व फूल बरसाने जैसे चापलूसी वाले कृत्यों से बचा जाए।”

सिंह ने आगे जोड़ा, “एक आधुनिक सैन्य बल होने के नाते हमें समकालीन सामाजिक विधियाँ अपनानी चाहिए जिससे हमारे पास उपलब्ध संसाधनों का बेहतर प्रयोगहो पाए।” नौसेना प्रमुख ने विशेष व्यक्तियों के आगमन पर जहाजों में कालीन बिछाने और गमले लगाने से भी मना किया है।

एडमिरल सिंह ने उच्च पदाधिकारियों से यह सुनिश्चित करने को कहा है कि उनके कनिष्ठों के साथ सम्मान से व्यवहार किया जाए। इस परिवर्तन को खुद से शुरू करते हुए उन्होंने कहा कि उनके लिए अतिरिक्त गाड़ियाँ नहीं रखी जाएँगी और केवल सेलर से ही दौरे के दौरान संपर्क किया जाएगा, न कि अधिकारियों से।