समाचार
मनसुख मंडाविया आज करेंगे राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों से भेंट, दूसरी खुराक पर होगा ज़ोर

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया आज (27 अक्टूबर) राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों से भेंट करके देश में कोविड-19 टीकाकरण अभियान को बढ़ाने की रणनीतियों पर चर्चा करेंगे। इसमें आंशिक रूप से टीकाकरण करने वालों के लिए वैक्सीन की दूसरी खुराक में तेज़ी लाने पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

दि इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा त्यौहार के समय के आसपास कोविड-19 मामलों में वृद्धि की आशंकाओं को दिखाने और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सोमवार को शुरू किए गए आयुष्मान भारत स्वास्थ्य अवसंरचना मिशन पर चर्चा करने की अपेक्षा है, जिसका उद्देश्य स्वास्थ्य इंफ्रास्ट्रक्चर को और बढ़ाना है।

कोविड-19 वायरस का एक नया उप-प्रकार जो पहली बार यूके में पाया गया था और वर्तमान में भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) और राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) द्वारा जाँच की जा रही है, के भी केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया द्वारा चर्चा में आने की संभावना है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुमान के अनुसार, कम से कम 10 करोड़ लोग हैं, जो अपनी निर्धारित दूसरी खुराक से रह गए हैं और राज्य सरकारों को दोहरी खुराक को पूरा करने पर ध्यान केंद्रित करने के लिए कहा जाएगा।

भारत की 75 प्रतिशत से अधिक योग्य वयस्क आबादी को कोविड-19 वैक्सीन की कम से कम एक खुराक दी जा चुकी है। पूरी तरह से टीका 33 प्रतिशत से थोड़ी अधिक वयस्क आबादी को लगाया जा चुका है।

राज्यों के पास कोविड-19 टीकों की 12.75 करोड़ से अधिक शेष और अप्रयुक्त खुराक उपलब्ध हैं। केंद्र सरकार ने अब तक राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 107.22 करोड़ से अधिक कोविड-19 वैक्सीन खुराक प्रदान की हैं।