समाचार
कांग्रेस की ममता बनर्जी के विरुद्ध उपचुनावों में उम्मीदवार ना उतारने की योजना- रिपोर्ट

पश्चिम बंगाल में विपक्ष की एकता के बड़े हित को साधने के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के विरुद्ध कांग्रेस पार्टी अपना कोई उम्मीदवार मैदान में उतारने के पक्ष में नहीं दिख रही है। सोमवार (6 अगस्त) को पार्टी सूत्रों का कहना है कि डब्ल्यूबीपीसीसी प्रमुख अधीर रंजन चौधरी कोलकाता में इस संबंध में कोई आधिकारिक घोषणा कर सकते हैं।

हाल ही में कांग्रेस आला कमान सोनिया गांधी के साथ हुई बैठक में ममता बनर्जी ने भाजपा के विरुद्ध उसका मुकाबला करने के लिए विपक्ष की एकता की महत्ता पर बल दिया था।

चुनाव आयोग ने शनिवार को तीन विधानसभा क्षेत्रों में होने वाले उपचुनावों की तिथियों की घोषणा की थी, जिसमें ममता बनर्जी के प्रभाव वाला भबानीपुर क्षेत्र भी है। शेष दो मुर्शीदाबाद जिले के समसेरगंज और जंगीपुर हैं। इन तीनों विधानसभा क्षेत्रों पर 30 सितंबर को मतदान होगा और तीन अक्टूबर को मतगणना होने की तिथि निर्धारित की गई है।

समसेरगंज और जंगीपुर में होने वाले उपचुनाव हाल ही में पश्चिम बंगाल में हुए विधानसभा चुनावों के मतदान से पूर्व उम्मीदवारों की मृत्यु की वजह से टाल दिए गए थे। दूसरी तरफ, भबानीपुर विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव वहाँ के विधायक सोवनदेब चट्टोपाध्याय के ममता बनर्जी के लिए जगह बनाने के चलते अपनी सीट से त्याग-पत्र देने के कारण होने जा रहे हैं।

बता दें कि तृणमूल कांग्रेस प्रमुख अपने विपक्षी नेता शुभेंदु अधिकारी से नंदीग्राम में विधानसभा चुनाव के दौरान हार गई थीं, जिसकी वजह से वे अभी तक विधायी निकाय की निर्वाचित सदस्य नहीं हैं।