समाचार
“संत रविदास व गुरु गोबिंद सिंह की धरती का कांग्रेस ने किया अपमान”- प्रधानमंत्री मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के ‘उत्तर प्रदेश, बिहार और दिल्ली दे भाई’ वाले बयान पर निशाना साधते हुए कहा कि ऐसी विभाजनकारी सोच वाले लोगों को राज्य पर शासन करने का अधिकार नहीं है।

अबोहर में एक रैली संबोधित करते हुए उन्होंने मतदाताओं से राज्य के विकास के लिए पंजाब में भाजपा नीत गठबंधन को सत्ता में लाने का आग्रह किया।

प्रधानमंत्री ने कहा, “कांग्रेस हमेशा एक क्षेत्र के लोगों को अपने लाभ के लिए दूसरे क्षेत्र से लड़ने को प्रेरित करती है। पंजाब के मुख्यमंत्री ने जो बयान दिया और उनके बगल में खड़ीं उनकी नेता ताली बजा रही थीं। पूरे देश ने इसे देखा है।”

उन्होंने कहा, “ऐसे बयानों से वे किसका अपमान करने का प्रयास कर रहे हैं। यहाँ (पंजाब में) शायद ही कोई गाँव होगा, जहाँ उत्तर प्रदेश या बिहार के हमारे भाई मेहनत ना करते हों।”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “मैं इनसे पूछना चाहता हूँ कि संत रविदास का जन्म कहाँ हुआ था। क्या उनका जन्म पंजाब में हुआ था? उनका जन्म उत्तर प्रदेश के वाराणसी में हुआ था और आप वहाँ के भैया को यहाँ प्रवेश नहीं करने देंगे। क्या आप रविदासियों (गुरु रविदास के अनुयायी) को बाहर निकाल देंगे, क्या आप संत रविदास का नाम भी मिटा देंगे। आप किस तरह की भाषा बोल रहे हैं?”

उन्होंने पूछा, “गुरु गोबिंद सिंह का जन्म कहाँ हुआ था? उनका जन्म बिहार के पटना साहिब में हुआ था और आप कहते हैं कि आप बिहार के लोगों को प्रवेश नहीं करने देंगे। क्या आप गुरु गोबिंद सिंह जी का अपमान करेंगे? क्या आप उस भूमि का अपमान करेंगे, जहाँ गुरु गोविंद सिंह का जन्म हुआ था? क्या आप ऐसी भाषा का प्रयोग करेंगे कि आप उस राज्य के लोगों को यहाँ प्रवेश नहीं करने देंगे।”