समाचार
कांग्रेस ने बीएमसी चुनाव की सभी 236 सीटों पर अकेले ही उतरने की घोषणा की

महाराष्ट्र में शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के महाविकास अघाड़ी गठबंधन में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। कांग्रेस ने घोषणा की कि वह बृहन् मुंबई नगरपालिका (बीएमसी) के आगामी चुनाव में सभी 236 सीटों पर अकेले ही चुनाव लड़ेगी।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई कांग्रेस प्रमुख भाई जगताप ने पार्टी के 137वें स्थापना दिवस पर हुए कार्यक्रम के दौरान यह घोषणा की। उन्होंने कहा, “137 सिर्फ आँकड़ा नहीं बल्कि यह पार्टी की विचारधारा की विरासत है, जो अब भी देश के लोगों के दिमाग में उपस्थित है।”

उन्होंने कहा, “1885 में तेजपाल हॉल में पार्टी का गठन हुआ था। वोमेश चंद्र बनर्जी और दादाभाई नौरोजी से लेकर सोनिया गांधी, राहुल गांधी तक पार्टी ने अब तक 60 अध्यक्ष देखे हैं। महात्मा गांधी ने भारत छोड़ो का नारा भी तेजपाल हॉल के परिसर के सामने अगस्त क्रांति मैदान से ही दिया था। अब हम इस हॉल में एक और प्रण ले रहे हैं। आगामी बीएमसी चुनाव में कांग्रेस सभी 236 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी।”

इसके अतिरिक्त, शिवसेना ने भी महा विकास अघाड़ी गठबंधन से अलग अकेले बीएमसी चुनाव लड़ने की घोषणा की है। शिवसेना 200 से अधिक सीटों पर चुनाव लड़ेगी। हालाँकि, कहा जा रहा है कि शिवसेना एनसीपी के साथ गठबंधन कर सकती है। वर्तमान में एनसीपी के पास बीएमसी के 8 कॉरपोरेशन हैं। वहीं, कांग्रेस सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी है क्योंकि उसके पास 28 कॉरपोरेटर्स हैं।