समाचार
मुख्यमंत्री योगी ने दिए 6 माह में गोरखपुर मेट्रो परियोजना का काम शुरू करने के निर्देश

अपने दूसरे कार्यकाल में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने प्रदेश में मेट्रो नेटवर्क के विस्तार पर ध्यान केंद्रित किया है।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को गोरखपुर मेट्रो लाइट परियोजना पर 6 माह में काम शुरू करने और काशी, मेरठ, बरेली, झांसी व प्रयागराज में मेट्रो रेल सेवा के लिए कदम उठाने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री कार्यालय ने एक ट्वीट में योगी आदित्यनाथ के हवाले से कहा, “काशी, मेरठ, गोरखपुर, बरेली, झांसी और प्रयागराज को मेट्रो रेल सेवा से जोड़ा जाना है। आवश्यक प्रक्रिया पूरी की जाए। गोरखपुर मेट्रो लाइट परियोजना पर छह माह में काम शुरू करने की तैयारी करें।”

गोरखपुर मेट्रो लाइट परियोजना को राज्य कैबिनेट और सार्वजनिक निवेश बोर्ड (पीआईबी) दोनों द्वारा अनुमोदित किया गया था और अब केंद्रीय कैबिनेट की स्वीकृति की प्रतीक्षा है।

पहले चरण में गोरखपुर की 15.14 किलोमीटर लंबी मेट्रो लाइट गोरखनाथ मंदिर, गोरखपुर रेलवे स्टेशन, गोरखपुर विश्वविद्यालय और नवनिर्मित एम्स सहित शहर के प्रमुख केंद्रों को जोड़ेगी।

2,670 करोड़ रुपये से बनने वाले पहले चरण में 15 लाख से अधिक लोगों को सुविधा मिलने अपेक्षा है।

दि इकोनॉमिक टाइम्स ने एक सूत्र के हवाले से बताया, “वित्त पोषण का 50 प्रतिशत जो ऋण के माध्यम से होगा, यूरोपीय निवेश बैंक (ईआईबी) से लिया जाएगा, जिसने लखनऊ और कानपुर मेट्रो परियोजनाओं को वित्त पोषित किया है।”