समाचार
योगी आदित्यनाथ ने रसोइयों व अनुदेशकों के बढ़े मानदेय की घोषणा की, मिलेगा बीमा भी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को उत्तर प्रदेश के प्राथमिक विद्यालयों में कार्य करने वाले रसोइयों व अनुदेशकों के बढ़े हुए मानदेय की घोषणा की। अंशकालिक अनुदेशकों का 2,000 रुपये, जबकि रसोइयों के मानदेय में 500 रुपये की वृद्धि की गई। रसोइयों को वर्ष में दो बार साड़ियाँ मिलेंगी। हर रसोइये को 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा भी दिया जाएगा।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, लखनऊ में आयोजित रसोइयों व अनुदेशकों के सम्मेलन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, “गत कुछ वर्षों में बेसिक शिक्षा विभाग में बड़े सकारात्मक परिवर्तन आए हैं। ये परिवर्तन सबके सहयोग के बिना संभव नहीं थे।”

उन्होंने कहा, “पिछले 20 से 22 माह को छोड़ दें तो उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों में 54 लाख बच्चे पढ़े हैं। इसके पीछे शिक्षकों और अच्छा व गर्म खाना खिलाने वाले रसोइयों का योगदान है। अभियान कायाकल्प के माध्यम से हम विद्यालयों का विकास कर रहे हैं। 1.56 विद्यालयों में से 1.30 लाख विद्यालयों का कायाकल्प हो चुका है।”

मुख्यमंत्री ने कहा, “2017 से पूर्व 75 प्रतिशत बालिकाएँ और 40 प्रतिशत विद्यार्थी नंगे पैर विद्यालय जाते थे। विद्यालय पोशाक सही नहीं थी। हमने बच्चों को दो अच्छी पोशाक, बैग, स्वेटर, कॉपी-किताब के साथ जूता-मोजा भी देना शुरू किया। कोरोना काल में समस्या आई तो सीधे 1,100 रुपये अभिभावकों के खाते में भेजे। अब तो रसोइयों की नियुक्ति प्रक्रिया में भी सुधार किया गया है।”