समाचार
पेगासस मामले में ममता बनर्जी ने बंगाल में जाँच आयोग गठित करने का आदेश दिया

मुख्मयंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार (26 जुलाई) को पेगासस जासूसी मामले में जाँच आयोग गठित करने का आदेश दिया। इसमें दो सेवानिवृत्त न्यायाधीश सम्मिलित होंगे, जो राज्य में फोन हैकिंग, ट्रैकिंग और रिकॉर्डिंग के आरोपों की जाँच करेंगे। इस तरह मामले को लेकर पश्चिम बंगाल आयोग बनाने वाला देश का पहला राज्य बन गया है।

एबीपी न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार, ममता बनर्जी ने यह निर्णय दिल्ली जाने से पूर्व कैबिनेट बैठक में लिया है। जाँच आयोग में सर्वोच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश मदन लोकर अध्यक्ष होंगे, जबकि कोलकाता उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश ज्योतिरमय भट्टाचार्य दूसरे सदस्य रहेंगे।

तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा, “पेगासस के माध्यम से न्यायपालिका और नागरिक समाज सहित हर कोई निगरानी में है। अपेक्षा की जा रही थी कि संसद में केंद्र सरकार एससी पर्यवेक्षण के तहत जाँच करेगा लेकिन उन्होंने ऐसा किया ही नहीं। जाँच आयोग अधिनियम के तहत आयोग का गठन किया जा रहा है।”

बता दें कि ममता बनर्जी आज दिल्ली के लिए रवाना हो रही हैं। 28 जुलाई को वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भेंट करेगी। वे शाम 5 बजे तक दिल्ली पहुँचेंगी। 29 जुलाई तक वे राजधानी में रहेंगी। यात्रा के दौरान वे कई विपक्षी नेताओं से भी भेंट करेंगी।