समाचार
चेन्नै मेट्रो चरण 2- एलएंडटी को 10 किमी एलिवेटेड सेतु व 10 स्टेशन बनाने का ठेका मिला

लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) को चेन्नै मेट्रो रेल (सीएमआरएल) परियोजना के दूसरे चरण में पैकेज सी3 का ठेका दिया गया है।

इसके दायरे में 10 किमी के एलिवेटेड (भूमि से ऊपर) सेतु के साथ एक एलिवेटेड रैंप और 10 एलिवेटेड मेट्रो स्टेशन नेहरू नगर, कंडांचवडी, पेरुंगुडी, थोरईपक्कम, मेट्टुकुप्पम, पीटीसी कॉलोनी, ओक्कियंपेट, करापक्कम, ओक्कियम थोरईपक्कम और शोलिंगनल्लूर के निर्माण कार्य सम्मिलित हैं।

यह एलिवेटेड मेट्रो रेल पैकेज 35 माह में बनना है।

एलएंडटी पहले से ही सीएमआरएल चरण-2 के चार पैकेज निष्पादित कर रहा है, जिनमें से एक भूमिगत है और अन्य तीन एलिवेटेड पैकेज हैं। एलएंडटी ने पहले चेन्नै मेट्रो के चरण-1 में कुछ पैकेज पूरे किए थे।

चेन्नै मेट्रो के पहले चरण के दो गलियारों में 54 किमी की दूरी तय की गई यानी वाशरमेनपेट से एयरपोर्ट (23 किमी), चेन्नै सेंट्रल से सेंट थॉमस माउंट (21.96 किमी) और थिरुवोट्रियूर में वाशरमैनपेट से विमको नगर (9 किमी) तक की।

128 स्टेशनों के साथ 118.9 किलोमीटर नेटवर्क के लिए दूसरे चरण के विस्तार की योजना बनाई गई है। इसमें तीन गलियारे सम्मिलित हैं यानी गलियारा-3 माधवरम से सिपकोट (45.8 किमी), गलियारा-4 लाइटहाउस से पूनमल्ले बाईपास (26.1 किमी), गलियारा-5 माधवरम से शोलिंगनल्लूर (47 किमी) तक। परियोजना की अनुमानित लागत 63,246 करोड़ रुपये है।

चेन्नै महानगर क्षेत्र (सीएमए) में चेन्नै शहर, 16 नगर पालिकाएँ, 20 नगर पंचायतें और 10 पंचायत संघों में 214 ग्राम पंचायतें सम्मिलित हैं।

2011 की जनगणना के अनुसार, सीएमए और शहर क्षेत्र की आबादी क्रमशः 89.2 लाख और 46.8 लाख है।