समाचार
चंद्रयान-3 का 2022 की तीसरी तिमाही में प्रक्षेपण संभव- लोकसभा में केंद्र सरकार

केंद्र सरकार ने बुधवार (28 जुलाई) को जानकारी दी कि भारत के तीसरे चंद्र अभियान चंद्रयान-3 पर कार्य चल रहा है और इसके 2022 में प्रक्षेपण की संभावना है।

लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में केंद्रीय अंतरिक्ष राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा, “चंद्रयान-3 को 2022 की तीसरी तिमाही के दौरान सामान्य कार्य प्रवाह मानते हुए प्रक्षेपित किए जाने की संभावना है।”

राज्यमंत्री ने कहा, “चंद्रयान-3 को पूरा करने में विन्यास को अंतिम रूप देने, उपतंत्रों की प्राप्ति, एकीकरण, अंतरिक्ष यान स्तर का विस्तृत परीक्षण और पृथ्वी पर प्रणाली के प्रदर्शन का मूल्यांकन करने के लिए कई विशेष परीक्षण सम्मिलित हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “कोविड-19 महामारी के कारण परियोजना की प्रगति बाधित हुई थी। हालाँकि, लॉकडाउन अवधि के दौरान वे सभी काम, जो वर्क फ्रॉम होम में संभव थे, किए गए। तीसरे चंद्र अभियान पर कार्य अनलॉक अवधि के प्रारंभ होने के पश्चात पुनः शुरू हुआ और यह पूरा होने के परिपक्व चरण में है।”

मंत्री ने कहा, “चंद्रयान-3 के प्रणोदन मॉड्यूल को साकार कर लिया गया है और अंतिम परीक्षण जारी है। परियोजना के विशेष परीक्षणों को 2021 के मध्य में पूरा करने की योजना है।”