समाचार
“गृह मंत्री से गठबंधन पर बात हो चुकी, अब भाजपा अध्यक्ष से मिलना है”- अमरिंदर सिंह

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने भाजपा के साथ अपनी नई पार्टी के गठबंधन के बारे में कहा कि गठबंधन के लिए मेरी एकमात्र शर्त किसान आंदोलन का संकल्प था।

एनडीटीवी से अमरिंदर सिंह ने कहा, “मैं पहले ही गृह मंत्री से मिल चुका हूँ और उनसे गठबंधन के बारे में बात कर चुका हूँ। शनिवार को मैं भाजपा अध्यक्ष से मिलने की अपेक्षा करता हूँ।”

उन्होंने कहा कि अब भाजपा के साथ एक औपचारिक गठबंधन पर काम किया जा सकता है क्योंकि तीन विवादास्पद कृषि कानूनों को निरस्त कर दिया गया है और किसानों द्वारा उठाए गए अन्य मुद्दों पर चर्चा की जा रही है।

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री ने कांग्रेस के उस बयान को सिरे से खारिज कर दिया, जिसमें कहा गया था कि उनका समर्थन करने वाला पार्टी का कोई विधायक नहीं है। उन्होंने कहा, “कांग्रेस के कई विधायक मुझसे जुड़ने के लिए उत्सुक हैं और बस आदर्श आचार संहिता लागू होने की प्रतीक्षा कर रहे हैं।”

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की उस टिप्पणी का भी खंडन किया कि वे भाजपा के साथ गठबंधन करके विधानसभा चुनावों में अपने स्वयं के अवसरों को नुकसान पहुँचा रहे हैं। चन्नी का दावा है कि राज्य में उनका कोई समर्थक नहीं है।

इस पर उन्होंने कहा, “आज हमारी अपनी प्रतक्रिया है कि हमारा पूरी तरह से भाजपा के प्रति झुकाव है। कई हिंदू भाजपा और मेरी पार्टी का समर्थन कर रहे हैं। पंजाब में 36 प्रतिशत हिंदू हैं और हम कांग्रेस से अधिक उस हिस्से को लेने जा रहे हैं। अपेक्षा है कि हमें किसानों से भी भरपूर सहयोग मिलेगा।”