व्यापार
2012 के बाद विनिर्माण क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ त्रैमासिक प्रदर्शन- रिपोर्ट

निक्केई के विनिर्माण व क्रय प्रबंधन सूचकांक (पीएमआई) के अनुसार भारत की निर्माण गतिविधि दिसंबर में कम होकर 53.2 हो गई जबकि नवंबर में यह 11 महीनों के सर्वाधिक 54 अंक पर थी, लेकिन इसके बावजूद 2018 में यह दूसरे स्थान पर सर्वाधिक रही, रियुटर्स  ने रिपोर्ट किया।

इससे संकेत मिलता है कि कंपनियों में व्यापार संबंधी नए अंतर्प्रवाह होते रहे जिससे उत्पादन और रोज़गार में वृद्धि हुई। दिसंबर 17वाँ महीना था जिसमें पीएमआई लगातार 50 अंक के ऊपर बना रहा।

रियुटर्स के अनुसार 2012 के बाद यह सर्वश्रेष्ठ त्रैमासिक प्रदर्शन है। पोर्टल की रिपोर्ट के अनुसार तीन वर्षों में लागत मूल्य दिसंबर में सबसे कम रहा।

पीएमआई से संकेत मिलता है कि “2018 के अंत में इस क्षेत्र का प्रदर्शन सर्वश्रेष्ठ रहा जो कि वर्ष की शुरुआत से मज़बूत है”, पोलियाना डि लीमा ने कहा। अच्छे प्रदर्शन के बावजूद सर्वे दर्शाता है कि विनिर्माण कंपनियाँ सतर्क हो रही हैं। दिसंबर में भर्ती में कमी आई क्योंकि आने वाले चुनावों के कारण कई अनिश्चितताएँ हैं।