समाचार
भाजपा की सरबजीत कौर आप प्रतिद्वंद्वी को एक वोट से हराकर चंडीगढ़ की मेयर बनीं

भाजपा की नगर पार्षद सरबजीत कौर शनिवार को आम आदमी पार्टी की अंजू कत्याल को सीधे मुकाबले में केवल एक वोट से हराकर चंडीगढ़ नगर निगम की नई मेयर बनीं।

कुल 36 वोटों में से 28 वोट पड़े, जबकि कांग्रेस के सात पार्षद और शिरोमणि अकाली दल के एकमात्र पार्षद अनुपस्थित रहे।

अधिकारियों ने बताया कि सरबजीत कौर को 14 वोट मिले, जबकि कात्याल को 13 वोट मिले और एक को अवैध घोषित कर दिया गया परिणाम घोषित होने के बाद आप पार्षदों ने सदन में हंगामा किया। उन्हें हटवाने के लिए पुलिस को भी बुलाना पड़ा।

27 दिसंबर को घोषित चंडीगढ़ नगर निगम चुनावों के परिणाम त्रिशंकु थे, जिसमें आप ने 35 में से 14 और भाजपा ने 12 पर जीत प्राप्त की थी। कांग्रेस को आठ, जबकि शिरोमणि अकाली दल को एक सीट मिली थी।

हालाँकि, कांग्रेस की नगर पार्षद हरप्रीत कौर बबला चुनाव परिणाम घोषित होने के कुछ दिनों बाद भाजपा में सम्मिलित हो गई थीं। 35 पार्षदों के अतिरिक्त चंडीगढ़ के सांसद, जो नगर निगम में पदेन सदस्य हैं, को भी मतदान का अधिकार है।