समाचार
गोवा में 20 सीट जीतने वाली भाजपा बनाएगी सरकार, पाँच विधायकों का मिला समर्थन

देश के सबसे छोटे राज्य गोवा की 40 विधानसभा सीटों में से 20 में भाजपा ने जीत प्राप्त की। हालाँकि, पार्टी पूर्ण बहुमत हासिल करने से एक सीट दूर रह गई। फिर भी तीन निर्दलीय और महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी के दो विधायकों से मिले समर्थन के बाद भाजपा सरकार बनाने जा रही है।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, कांग्रेस को राज्य में 11 सीटें मिली हैं। गोवा के निवर्तमान मुख्यमंत्री और भाजपा नेता प्रमोद सावंत ने भी अपनी सीट जीत ली। वहीं, आम आदमी पार्टी (आप) ने दो सीटों पर विजय प्राप्त करके अपना खाता राज्य में खोल लिया। आप ने सभी 40 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे।

एग्ज़िट पोल में कांग्रेस को जहाँ सबसे बड़ी पार्टी बताया जा रहा था, वो 11 सीट जीतकर ही रुक गई।

पणजी सीट से भाजपा के दिवंगत नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल पर्रिकर मैदान में थे। भाजपा ने टिकट नहीं दिया तो वे निर्दलीय ही मैदान में उतर गए। उनके सामने भाजपा के अतानासियो मोनसेराटे और कांग्रेस के एल्विस गोम्स थे। ऐसे में मुकाबला त्रिकोणीय हो गया और पर्रिकर 710 मतों से मोनसेराटे से हार गए।

भाजपा ने गोवा में 1999 में पहली बार सरकार बनाई थी, तब मनोहर पर्रिकर मुख्यमंत्री बने थे। फिर पार्टी 2002, 2012 और 2017 में सत्ता में आई थी। कांग्रेस करीब 25 वर्ष राज्य की सत्ता में रही है। अब भाजपा 13 वर्ष से अधिक सरकार चलाकर दूसरे नंबर पर है।