समाचार
रिवियन की नैसडेक पर दमदार शुरुआत, 100 अरब डॉलर का बाज़ार मूल्यांकन पार

अमेज़ॉन समर्थित इलेक्ट्रिक वाहन रिवियन ऑटोमोटिव बुधवार (10 नवंबर) को नैसडेक में अपनी शुरुआत में 100 अरब डॉलर के बाज़ार मूल्यांकन को पार कर गया।

शेयर बाज़ार की शुरुआत ने रिवियन को टेस्ला के बाद दूसरा सबसे मूल्यवान यूएस ऑटोमेकर बना दिया, जिसका मूल्य 1.04 ट्रिलियन डॉलर है। वाहनों की बहुत कम इकाइयों की बिक्री के बावजूद (यह कुछ महीने पहले ही व्यावसायिक रूप से आया था) आईपीओ ने बाज़ार मूल्यांकन में फोर्ड, जीएम सहित ऑटो दिग्गजों से आगे निकल गया।

जेफ बेजोस अमेज़ॉन कंपनी का सबसे बड़े शेयरधारक है, जिसकी लगभग 20 प्रतिशत भागीदारी है, जबकि फोर्ड मोटर कंपनी के पास 5 प्रतिशत से कुछ अधिक की भागीदारी है।

आईपीओ से पूर्व रिवियन ने 2019 की शुरुआत से अमेज़ॉन, फोर्ड मोटर कंपनी व टी रो प्राइस और ब्लैकरॉक सहित अन्य निवेशकों से 10.5 अरब डॉलर जुटाए थे। आईपीओ की आय लगभग 10.5 अरब डॉलर होने का अनुमान है, जो कंपनी की विस्तार योजना को निधि देगी।

रिवियन आर1टी पिकअप ट्रक बना रहा है, जो एक ऑल-इलेक्ट्रिक पिकअप ट्रक है। कंपनी का वादा है कि आर1टी 300 मील की ड्राइविंग रेंज और लाइटनिंग-क्विक एक्सेलेरेशन प्रस्तुत करेगा। यह आर1एस एसयूवी के साथ एक इलेक्ट्रिक कमर्शियल वैन को भी जोड़ने की योजना बना रहा है। हालाँकि, कंपनी ने बहुत कम वाहन बनाए हैं लेकिन 2030 तक प्रति वर्ष कम से कम 10 लाख इलेक्ट्रिक वाहनों का उत्पादन करने की योजना है।