समाचार
दिल्ली-चंडीगढ़ बना देश का पहला ईवी उपयोगी हाईवे, भेल ने तैयार किए चार्जिंग स्टेशन

केंद्र सरकार ने दिल्ली-चंडीगढ़ हाईवे पर इलेक्ट्रॉनिक व्हीकल (ईवी) चार्जिंग स्टेशनों का एक नेटवर्क स्थापित किया है। सरकार के अनुसार यह देश का पहला ईवी उपयोगी हाईवे है। भारी उद्योग मंत्री महेंद्र नाथ पांडेय ने गुरुवार (19 अगस्त) को एक वर्चुअल कार्यक्रम में कर्ण लेक रिजॉर्ट में अत्याधुनिक चार्जिंग स्टेशन का शुभारंभ किया।

एबीपी न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार, भारत सरकार के भारी उद्योग मंत्रालय की फेम-1 योजना के तहत इस हाईवे पर चार्जिंग स्टेशन का नेटवर्क भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (भेल) ने तैयार किया है। सौर ऊर्जा से चलने वाला ये स्टेशन हर प्रकार के ईवी को चार्ज कर सकता है।

दिल्ली-चंडीगढ़ हाईवे पर अब तक 19 चार्जिंग स्टेशन का निर्माण किया जा चुका है। ये 25 से 30 किलोमीटर की दूरी के अंतराल पर लगाए गए हैं। कर्ण लेक रिज़ॉर्ट पर बनाया गया नया ई-चार्जिंग स्टेशन हाईवे के मध्य में स्थित है। इससे इलेक्ट्रिक वाहन उपयोगकर्ताओं के बीच चिंता कम होगी और अंतर-शहर यात्रा के लिए उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा।

इस मौके पर महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा तय किए गए लक्ष्यों को प्राप्त करने की दिशा में यह महत्वपूर्ण कदम साबित होगा। प्रधानमंत्री लगातार राष्ट्रीय सुरक्षा में पर्यावरण सुरक्षा के महत्व पर ज़ोर देते आ रहे हैं।” उधर, भेल इस वर्ष इस हाईवे पर मौजूद अन्य चार्जिंग स्टेशनों को उन्नत करने का भी काम कर रही है।