समाचार
भारत एनसीएपी के अंतर्गत देश में कारों को दी जाएगी स्टार रेटिंग- नितिन गडकरी

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को कहा, “नई कार मूल्यांकन कार्यक्रम के तहत भारत एनसीएपी नाम से एक तंत्र का प्रस्ताव रखता है, जिसमें देश में ऑटोमोबाइल के क्रैश परीक्षणों में उनके प्रदर्शन के आधार पर स्टार रेटिंग दी जाएगी।”

गडकरी ने ट्वीट की एक शृंखला में कहा, “भारत न्यू कार असेसमेंट प्रोग्राम (भारत एनसीएपी) एक उपभोक्ता-केंद्रित मंच के रूप में काम करेगा, जो सुरक्षित वाहनों के निर्माण के लिए भारत में मूल उपकरण निर्माताओं (ओईएम) के मध्य एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देते हुए ग्राहकों को स्टार-रेटिंग के आधार पर सुरक्षित कारों का विकल्प चुनने की अनुमति देगा।”

उन्होंने कहा, “मैंने अब भारत एनसीएपी (नई कार का आकलन कार्यक्रम) शुरू करने के लिए जीएसआर अधिसूचना के मसौदे को स्वीकृति दे दी है, जिसमें भारत में कारों को क्रैश परीक्षण में उनके प्रदर्शन के आधार पर स्टार रेटिंग दी जाएगी।”

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री ने जोर देकर कहा, “क्रैश परीक्षणों के आधार पर भारतीय कारों की स्टार रेटिंग ना केवल कारों में संरचनात्मक और यात्री सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए बल्कि भारतीय कारों की निर्यात-योग्यता को बढ़ाने के लिए भी अत्यंत महत्वपूर्ण है।”

गडकरी ने कहा, “भारत एनसीएपी के परीक्षण प्रोटोकॉल को वर्तमान भारतीय नियमों के वैश्विक क्रैश परीक्षण प्रोटोकॉल के साथ जोड़ा जाएगा, जिससे ओईएम अपने वाहनों का परीक्षण भारत की घरेलू परीक्षण सुविधाओं में कर सकेंगे।

गडकरी ने कहा, “भारत एनसीएपी भारत को दुनिया में नंबर-1 ऑटोमोबाइल हब बनाने के अभियान के साथ हमारे कार उद्योग को आत्मानिर्भर बनाने में एक महत्वपूर्ण साधन साबित होगा।”