समाचार
24 घंटे चल रहा राम मंदिर निर्माण, जनवरी अंत तक पूर्ण होगा दूसरी नींव का काम- ट्रस्ट

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के नींव का दूसरा चरण जनवरी के अंत तक पूरा होने वाला है।

लाइवमिंट की रिपोर्ट के अनुसार, श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय के हवाले से कहा गया, “नींव का एक हिस्सा पूरा हो गया है। दूसरी नींव का काम प्रक्रियाधीन है। इसे जनवरी में पूर्ण कर लिया जाएगा।”

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का गठन केंद्र सरकार द्वारा अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण और प्रबंधन की देखभाल के लिए किया गया था।

चंपत राय ने आगे बताया कि मंदिर का निर्माण कार्य चौबीसों घंटे चल रहा है। मंदिर की आधारशिला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अगस्त 2020 को रखी थी।

360 फीट लंबा और 235 फीट चौड़ा मुख्य मंदिर 2.7 एकड़ के कुल क्षेत्रफल में बनाया जा रहा है, जबकि कुल निर्मित क्षेत्र 57,400 वर्ग फीट है। शिखर सहित मंदिर की कुल ऊँचाई 161 फीट होगी और इसकी तीन मंजिलें होंगी। प्रत्येक की ऊँचाई 20 फीट होगी।

ट्रस्ट के महासचिव ने कहा कि मंदिर के निर्माण में 5 फीट लंबाई, 3 फीट चौड़ाई और 2.5 फीट ऊँचाई के लगभग 17,000 पत्थरों का उपयोग किया जा सकता है।

ट्रस्ट ने गुरुवार (13 जनवरी) को अयोध्या में श्रीराम जन्मस्थान पर श्रीराम जन्मभूमि मंदिर के निर्माण की प्रक्रिया को दर्शाने वाली एक 3डी फिल्म भी जारी की।