समाचार
अवनि लेखरा को स्वर्ण के बाद कांस्य भी, पैरालंपिक में दूसरा पदक जीतकर रचा इतिहास

टोक्यो पैरालंपिक 2020 में शुक्रवार (3 सितंबर) को निशानेबाज अवनि लेखरा ने एक और पदक जीतकर इतिहास रच दिया। वे एक ही ओलंपिक या पैरालंपिक में एक से अधिक पदक जीतने वाली भारत की पहली महिला एथलीट बन गई हैं।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, अवनि लेखरा ने महिलाओं की 50 मीटर राइफल 3पी एसएच-1 स्पर्धा में कांस्य पदक जीता। इसमें चीन की सीपी यांग ने स्वर्ण पदक अपने नाम किया, जबकि रजत पदक पर जर्मनी की एन हिलट्रोप ने अपना अधिकार जमाया।

इस स्पर्धा में भारतीय एथलीट ने 445.9 का स्कोर किया। दूसरे स्थान पर रहीं जर्मनी की एथलीट ने 457.1 और पहले स्थान पर रहे चीन ने 457.9 का स्कोर करते हुए पैरालंपिक की इस स्पर्धा में रिकॉर्ड बना दिया।

इससे पूर्व, आज नोएडा के प्रवीण कुमार ने पुरुषों की ऊँची कूद स्पर्धा में रजत पदक जीता। उन्होंने कुल 2.07 मीटर की लंबी छलांग लगाई और दूसरे स्थान पर रहे। उन्होंने 2019 में ही अंतर-राष्ट्रीय खेलों में पदार्पण किया था और दो वर्षों में ही उनके नाम ओलंपिक का रजत पदक है।

बता दें कि टोक्यो पैरालंपिक-2020 में भारत अब तक 12 पदक जीत चुका है। इसमें दो स्वर्ण पदक, 6 रजत पदक और चार कांस्य पदक हैं।