समाचार
जम्मू-कश्मीर- माता वैष्णो देवी मंदिर में भगदड़ में कम से कम 12 की मौत, 20 घायल

जम्मू-कश्मीर के माता वैष्णो देवी मंदिर में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ के कारण मची भगदड़ में कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई और 20 अन्य घायल हो गए।

अधिकारियों ने शनिवार को जानकारी दी कि भगदड़ तड़के जम्मू से करीब 50 किलोमीटर दूर त्रिकुटा की पहाड़ियों पर स्थित मंदिर के गर्भगृह के बाहर गेट नंबर तीन के पास हुई थी। नव वर्ष की शुरुआत के मौके पर पहुँचे श्रद्धालुओं की भारी भीड़ के कारण भगदड़ मची थी।

अमूमन, भक्त कटरा स्थित शिविर से लगभग 13 किलोमीटर की दूरी पर पहाड़ी की चोटी पर स्थित मंदिर तक जाते हैं, जबकि कुछ हेलीकॉप्टर से वहाँ पहुँचते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की और कहा कि उन्होंने स्थितियाँ देखने के लिए जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा और केंद्रीय मंत्रियों जितेंद्र सिंह व नित्यानंद राय से बात की है।

पीएमओ ने ट्वीट में कहा, “माता वैष्णो देवी भवन में भगदड़ में जान गँवाने वालों के परिजनों को पीएमएनआरएफ की ओर से 2-2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी। घायलों को 50,000 रुपये दिए जाएँगे।”

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल के कार्यालय ने ट्वीट कर कहा, “गृहमंत्री अमित शाह जी से बात की। उन्हें घटना की जानकारी दी। आज की भगदड़ की उच्चस्तरीय जाँच के आदेश दे दिए गए हैं। जाँच समिति की अध्यक्षता प्रधान सचिव (गृह) करेंगे, जिसमें एडीजीपी जम्मू और मंडलायुक्त जम्मू सदस्य होंगे। भगदड़ में जान गँवाने वालों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये और घायलों को 2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी। श्राइन बोर्ड घायलों के उपचार का खर्च वहन करेगा।”

अधिकारियों ने कहा कि भगदड़ में 12 लोगों की मौत हो गई और उनके शवों को पहचान व अन्य कानूनी औपचारिकताओं के लिए कटरा स्थित शिविर के एक अस्पताल में भेज दिया गया।