समाचार
जीएसटी संग्रह ₹1.12 लाख करोड़ पहुँचा, गत वर्ष के इसी माह की तुलना में 30% अधिक

वित्त मंत्रालय ने बुधवार (1 सितंबर) को कहा कि अगस्त में कुल वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) राजस्व 1,12,020 करोड़ रुपये है। इसमें केंद्रीय जीएसटी के 20,522 करोड़ रुपये, राज्य जीएसटी के 26,605 करोड़ रुपये, एकीकृत जीएसटी के 56,247 करोड़ रुपये (माल के आयात पर जमा 26,884 करोड़ रुपये सहित) और उपकर के 8,646 करोड़ रुपये (माल के आयात पर जमा 646 करोड़ रुपये सहित) हैं।

केंद्र सरकार ने आईजीएसटी से नियमित निपटान के रूप में 23,043 करोड़ रुपये सीजीएसटी और 19,139 करोड़ रुपये एसजीएसटी को तय किए हैं।

इसके अतिरिक्त, केंद्र ने केंद्र और राज्यों-केंद्रशासित प्रदेशों के बीच 50:50 के अनुपात में आईजीएसटी तदर्थ निपटान के रूप में 24,000 करोड़ रुपये का भी निपटान किया है।

वित्त मंत्रालय ने कहा कि अगस्त माह में नियमित और तदर्थ निपटान के बाद केंद्र और राज्यों का कुल राजस्व सीजीएसटी के लिए 55,565 करोड़ रुपये और एसजीएसटी के लिए 57,744 करोड़ रुपये है। अगस्त 2021 का राजस्व गत वर्ष के इसी माह में जीएसटी राजस्व से 30 प्रतिशत अधिक है।

मंत्रालय ने कहा कि कोविड प्रतिबंधों में ढील के साथ जुलाई एवं अगस्त 2021 के लिए जीएसटी संग्रह पुनः एक लाख करोड़ रुपये को पार कर गया है, जो स्पष्ट रूप से दर्शाता है कि अर्थव्यवस्था तेज़ी से ठीक हो रही है।

वित्त मंत्रालय ने कहा, “आर्थिक विकास के साथ चोरी-रोधी गतिविधियों विशेष रूप से नकली बिल देने वालों के विरुद्ध कार्रवाई भी इसमें वृद्धि की वजह है। आने वाले माह में भी मजबूत राजस्व जारी रहने की संभावना है।”