समाचार
सेना ने आंतरिक संदेशों के लिए नई पीढ़ी की अत्याधुनिक मैसेजिंग एप्लिकेशन लॉन्च की

भारतीय सेना ने गुरुवार (23 दिसंबर) को एसिग्मा (सेना सुरक्षित स्वदेशी संदेश अनुप्रयोग) नामक एक समकालीन मैसेजिंग एप्लिकेशन लॉन्च की। यह नई पीढ़ी की अत्याधुनिक, वेब आधारित एप्लिकेशन है, जिसे सेना के सिग्नल कोर के अधिकारियों की टीम द्वारा आंतरिक संदेशों के आदान-प्रदान के लिए विकसित किया गया।

रक्षा मंत्रालय ने एक विज्ञप्ति में कहा कि एप्लिकेशन को आर्मी वाइड एरिया नेटवर्क (अवान) मैसेजिंग एप्लिकेशन के प्रतिस्थापन के रूप में सेना के आंतरिक नेटवर्क पर तैनात किया जा रहा है, जो पिछले 15 वर्षों से सेवा में है।

मंत्रालय ने कहा कि उपरोक्त मैसेजिंग एप्लिकेशन सभी भविष्य की उपयोगकर्ता आवश्यकताओं को पूरा करता है और एक उन्नत उपयोगकर्ता अनुभव का दावा करता है। इसमें बहु-स्तरीय सुरक्षा, संदेश प्राथमिकता व ट्रैकिंग, गतिशील वैश्विक एड्रेस बुक और सेना की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए विभिन्न विकल्पों सहित कई समकालीन विशेषताएँ हैं।

यह भविष्य के लिए तैयार मैसेजिंग एप्लिकेशन सेना की वास्तविक समय डाटा ट्रांसफर और संदेशों के संचार की आवश्यकताओं को पूरा करेगी।

मंत्रालय के अनुसार, भारतीय सेना ने बड़े पैमाने पर स्वचालन को रोक दिया है, विशेष रूप से कोविड-19 के प्रकोप के बाद और कागज़ रहित कामकाज की दिशा में पर्याप्त कदम उठा रही है।

आगे कहा गया कि एसिग्मा इन प्रयासों को और बढ़ावा देगा और सेना द्वारा अपने गुप्त सेना नेटवर्क पर पहले से नियोजित अन्य अनुप्रयोगों की मेजबानी को जोड़ देगा।