समाचार
जल जीवन अभियान- हिमाचल प्रदेश का चंबा बना हर घर जल वाला देश का 100वाँ जिला

9 करोड़ से अधिक घरों में नल का पानी उपलब्ध करवाने की उपलब्धि प्राप्त करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार के प्रमुख जल जीवन अभियान ने देश के 100 जिलों में हर घर में नल का पानी उपलब्ध कराने का एक और कीर्तिमान बना दिया।

हिमाचल प्रदेश का चंबा जिला हर ग्रामीण घर में नल के पानी की आपूर्ति सुनिश्चित करने वाला देश का 100वाँ जिला बन गया। चंबा हर घर जल बनने वाला पाँचवाँ आकांक्षी जिला है। अन्य चार जिलों में भद्राद्री कोठगुडेम, जयशंकर भूपलपल्ली, कोमराम भीम आसिफाबाद (सभी तेलंगाना में) और हरियाणा का मेवात है।

केंद्र के ‘आकांक्षी जिला कार्यक्रम’ का लक्ष्य देश भर के 112 सबसे कम विकसित जिलों को बदलना है। जल जीवन अभियान के तहत गुणवत्ता प्रभावित गाँवों, आकांक्षी जिलों को नल जल आपूर्ति प्रदान करने के लिए प्राथमिकता दी जाती है।

अभियान ने नौ करोड़ ग्रामीण घरों को स्वच्छ नल का पानी उपलब्ध कराने का मील का पत्थर हासिल किया था।

जब प्रधानमंत्री मोदी ने अगस्त 2019 में जल जीवन अभियान की शुरुआत की तो भारत के 19.27 करोड़ घरों में से केवल 3.23 करोड़ (17%) के पास नल के पानी के कनेक्शन थे।

महामारी के व्यवधान के बावजूद इस योजना ने 100 जिलों में महत्वपूर्ण प्रगति की, जिसमें 1,138 ब्लॉक, 66,328 ग्राम पंचायतें और 1,36,803 गाँव ‘हर घर जल’ बन गए हैं।

गोवा, हरियाणा, तेलंगाना, अंडमान व निकोबार द्वीप समूह, पुदुचेरी, दादर व नगर हवेली और दमन व दीव में हर ग्रामीण घर में नल के पानी की आपूर्ति होती है।

पंजाब (99 प्रतिशत), हिमाचल प्रदेश (92.5 प्रतिशत), गुजरात (92 प्रतिशत) और बिहार (90प्रतिशत) जैसे कई और राज्य 2022 में हर घर जल बनने की पहुँच से कुछ कदम दूर हैं।