समाचार
मोदी मंत्रिमंडल के सभी 77 मंत्रियों को मंत्रालयों के समन्वय हेतु आठ समूहों में बाँटा गया

केंद्र सरकार के कामकाज को बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की केंद्रीय मंत्रिपरिषद् में सभी 77 मंत्रियों को आठ समूह में विभाजित किया गया।

हर समूह के समन्वय की ज़िम्मेदारी एक वरिष्ठ मंत्री को दी जाएगी। इसके अलावा, दो नए मंत्री, कुछ पुराने मंत्री और कुछ राज्यमंत्री भी प्रत्येक समूह का हिस्सा होंगे।

मंत्रालयों के कामकाज में तेज़ी लाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देशों का पालन करते हुए उपरोक्त कदम उठाए गए हैं। प्रधानमंत्री ने हाल ही में केंद्रीय मंत्रिपरिषद् के साथ बैठकों की शृंखला में मंत्रालयों के काम की समीक्षा की।

उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान गुजरात में मंत्रियों के मध्य हुई मध्याह्न भोजन बैठकों का उल्लेख किया।

केंद्रीय मंत्रियों को इसी तर्ज पर काम करने और इस तरह मिलने व उसी के अनुसार कार्य करने का निर्देश दिया गया था।

यह नया तंत्र विकसित किया जा रहा है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि नए मंत्रियों को अपने मंत्रालय के कामकाज की जानकारी और समझ मिल सके।

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, केंद्र एक ऐसी प्रणाली बनाने पर भी विचार कर रहा है, जिसके माध्यम से मंत्रालयों को एक-दूसरे के कामकाज की जानकारी मिल सके, ताकि विभिन्न विभागों द्वारा संयुक्त रूप से चलाई जा रही परियोजनाओं को पूरा करने में तेजी लाई जा सके।