समाचार
जेएसडब्ल्यू अंबुजा व एसीसी को होल्सिम से खरीदने हेतु 7 अरब डॉलर की बोली लगाएगा

भारत में धातु और सीमेंट के क्षेत्र में अग्रणी जेएसडब्ल्यू समूह के होल्सिम समूह की भारतीय सहायक कंपनियों अंबुजा सीमेंट्स और एसीसी के अधिग्रहण के लिए 7 अरब डॉलर की बोली लगाने की संभावना है।

फाइनेंशियल टाइम्स को कंपनी के चेयरमैन सज्जन जिंदल ने बताया कि जेएसडब्ल्यू समूह इसमें 4.5 अरब डॉलर का ऑफर अपनी इक्विटी और 2.5 अरब डॉलर का ऑफर निजी इक्विटी भागीदारों के माध्यम से रख सकता है।

एफटी की रिपोर्ट के मुताबिक, जिंदल ने कहा कि कंपनी अंबुजा सीमेंट्स में 63 प्रतिशत भागीदारी का अधिग्रहण करेगी।

सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली अंबुजा सीमेंट भारत के सीमेंट उद्योग में अपने छह एकीकृत विनिर्माण संयंत्रों और आठ सीमेंट पीसने वाली इकाइयों से 31 मिलियन मीट्रिक टन की वार्षिक उत्पादन क्षमता के साथ बाज़ार में अग्रणी है।

होलसिम का अंबुजा सीमेंट्स में 63.1 प्रतिशत का नियंत्रण है। यह अपनी भागीदारी की बिक्री पर विचार कर रहा है। एसीसी लिमिटेड अंबुजा की सहायक कंपनी है।

स्विट्ज़रलैंड स्थित होल्सिम अंबुजा में 63.1 प्रतिशत को नियंत्रित करता है और यह अपनी गैर-प्रमुख संपत्तियों की चल रही बिक्री के हिस्से के रूप में अपनी हिस्सेदारी की बिक्री पर विचार कर रहा है।

कथित तौर पर होलसीम की योजना इस व्यवसाय से अलग होने की है, ताकि स्थिरता पर बल देने के बीच प्रौद्योगिकी निर्माण पर अधिक ध्यान केंद्रित किया जा सके।

जेएसडब्ल्यू समूह की बोली तब सामने आई, जब अडानी समूह भी होल्सिम से सीमेंट कंपनियों को खरीदने की योजना बना रहा है।

गौतम अडानी की अगुआई वाली कंपनी अंबुजा और एसीसी सीमेंट कंपनियों के अधिग्रहण के लिए धन जुटाने हेतु संयुक्त अरब अमीरात के शासक परिवार शेख तहनून बिन जायद अल नाहयान और मध्य पूर्व में अन्य निवेश समूहों से वार्ता कर रही थी।