समाचार
अन्न योजना के पाँचवें चरण में लगभग 50.38 लाख मीट्रिक टन अनाज बाँटा गया- सरकार

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के पाँचवें चरण के तहत अब तक लगभग 50.38 लाख मीट्रिक टन अनाज का वितरण किया जा चुका है। शुक्रवार (5 फरवरी) को यह जानकारी संसद में दी गई।

राज्यसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में केंद्रीय खाद्य और सार्वजनिक वितरण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा, “राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से उपलब्ध रिपोर्टों के अनुसार, 31 जनवरी 2022 तक लगभग 50.38 लाख मीट्रिक टन अनाज प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पीएम-जीकेएवाई) के तहत पाँच चरणों में वितरित किया जा चुका है।”

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि देश में लगभग 80 करोड़ लाभार्थी राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) के तहत आते हैं, वे अपने मासिक एनएफएसए अनाज के अलावा प्रति व्यक्ति प्रति माह 5 किलोग्राम के पैमाने पर अतिरिक्त मुफ्त अनाज प्राप्त करने के पात्र हैं।

उन्होंने आगे बताया कि सरकार के खाद्य और सार्वजनिक वितरण विभाग ने पीएम-जीकेएवाई योजना के चरण 1 से 5 के कार्यान्वयन के लिए कोविड-19 महामारी के प्रकोप के बाद से राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को लगभग 759 लाख मीट्रिक टन अनाज आवंटित किया था।

मंत्री के अनुसार, खाद्य सब्सिडी में राज्यों को आपूर्ति किए जाने वाले अनाच का मूल्य लगभग 2.6 लाख करोड़ रुपये है।