समाचार
फ्रांस में कट्टरपंथी इस्लाम का प्रचार करने वाली छह मस्जिदें और 10 संगठन होंगे बंद

फ्रांस अब कट्टरपंथी इस्लामिक प्रचार-प्रसार के विरुद्ध कड़े कदम उठाने जा रहा है। सरकार देश में से छह मस्जिदों और संगठनों को बंद करने में लगी है, जो कट्टरपंथी इस्लाम का प्रचार करते हैं।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, आंतरिक मंत्री जेरार्ड डार्मिनिन ने बताया, “खुफिया एजेंसियों को संदेह है कि 89 धार्मिक स्थलों में से दो तिहाई स्थान कट्टरवाद का विस्तार करने में लगे हुए हैं।”

उन्होंने बताया कि इसको लेकर नवंबर 2020 में जाँच की गई और अब परिणाम स्वरूप इनमें छह मस्जिदों को बंद करने का कार्य शुरू हो गया है। यही नहीं, फ्रांस सरकार इस्लामवादी प्रकाशकों नवा और ब्लैक अफ्रीकन डिफेंस लीग (एलडीएनए) को बंद करने का भी अनुरोध करेगी।

डार्मिनिन ने बताया, “दक्षिणी फ्रासीसी शहर एरीगे में स्थित नवा यहूदियों को भगाने और समलैंगिकों पर पत्थर मारने के लिए उकसाता है। यह संगठन नफरत और भेदभाव का समर्थन करता है। भविष्य में इस तरह के 10 संगठनों को बंद किया जाएगा। इनमें से चार पर अगले माह कार्रवाई की जाएगी।”

बता दें कि गत सप्ताह देश की सर्वोच्च प्रशासनिक न्यायालय ने सामूहिक इस्लामोफोबिया के विरुद्ध संगठनों को बंद कराने के सरकार के कदम को अनुमति दी थी।