समाचार
तालिबान सरकार के गठन कार्यक्रम के लिए पाक, चीन, रूस सहित छह देश आमंत्रित

पंजशीर घाटी में अपना नियंत्रण स्थापित करने का दावा करने वाला तालिबान अब अफगानिस्तान में सरकार बनाने के अंतिम चरण में है। कहा जा रहा है कि नई सरकार के गठन के कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए चीन, पाकिस्तान, तुर्की, कतर, रूस और ईरान को आमंत्रण भेजा गया है।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुज़ाहिद ने काबुल में सोमवार (6 अगस्त) को एक प्रेसवर्ता में कहा, “युद्ध समाप्त हो चुका है। अब हम एक स्थिर अफगानिस्तान की अपेक्षा करते हैं। अब जो विद्रोह करेगा, वह देश और यहाँ के लोगों का शत्रु होगा।”

उन्होंने कहा, “यहाँ से भागने वाले कभी देश का निर्माण नहीं करेंगे। देश के लोगों को ही यह करना होगा। काबुल हवाई अड्डे पर संचालन पुनः आरंभ होने वाला है। कतर, तुर्की और यूएई से तकनीकी टीमें काम कर रही हैं।”

कहा जा रहा है कि पंजशीर प्रांत के आठ जिलों में तालिबानी लड़ाके फैल चुके हैं। जानकारी यह भी मिल रही है कि अफगानिस्तान के कार्यकारी राष्ट्रपति अमरुल्ला सालेह भी पंजशीर छोड़कर तजाकिस्तान चले गए हैं।