समाचार
अफगानिस्तान के कई शहरों में हुए धमाके में 40 लोगों की मौत, आईएस ने ली ज़िम्मेदारी

अफगानिस्तान के विभिन्न शहरों में हुए धमाकों की ज़िम्मेदारी इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने ली है। हमले में 40 से अधिक लोगों की मृत्यु हो हो गई।

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने बताया, “बच्चों सहित कम से कम 33 लोगों की हमले में जान गई और 43 घायल हो गए। अधिकारियों को आशंका है कि संख्या में वृद्धि हो सकती है।”

उन्होंने आगे कहा, “हम हमले की निंदा करते हैं। पीड़ितों के प्रति हमारी गहरी संवेदना है।”

मजार-ए-शरीफ और शी डोकान मस्जिद में हुए धमाकों की ज़िम्मेदारी आईएस ने ली है। शुक्रवार को उत्तरी कुंदुज प्रांत में एक अन्य विस्फोट में इमाम साहिब जिले के मावलवी सिकंदर मस्जिद में विस्फोट हुआ था। उस वक्त मस्जिद में लोग दोपहर की नमाज़ के लिए एकत्रित हुए थे।

आईएस ने जारी बयान में कहा, “मजार-ए-शरीफ की साईं डोकेन मस्जिद में धमाका करने के लिए विस्फोटक को बैग में छिपा दिया गया था।” उत्तरी मजार-ए-शरीफ में शिया मस्जिद में हुए विस्फोट में 12 लोग मारे गए थे और कई अन्य घायल हुए थे।

आईएस से संबद्ध एक संगठन ने अफगानिस्तान में अल्पसंख्यक शिया मुसलमानों को निशाना बनाकर बम विस्फोट करने का दावा किया है।