समाचार
राफेल सहित आईएएफ के 148 विमान ‘वायुशक्ति’ युद्धाभ्यास में दिखाएँगे अपनी क्षमता

राफेल सहित भारतीय वायुसेना (आईएएफ) के कुल 148 विमान 7 मार्च को जैसलमेर के पोखरण रेंज में होने वाले ‘वायुशक्ति’ युद्धाभ्यास में अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन करेंगे। यह जानकारी मंगलवार को एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी।

भारतीय वायुसेना के अधिकारी ने बताया कि राफेल विमान पहली बार इस युद्धाभ्यास में भाग लेंगे और इस आयोजन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बतौर मुख्य अतिथि सम्मिलित होंगे।

आईएएफ अपनी तैयारियों को प्रदर्शित करने के लिए प्रत्येक 3 वर्ष में पोखरण रेंज में वायुशक्ति नाम से युद्धाभ्यास आयोजित करती है। पिछली बार यह युद्धाभ्यास 2019 में हुआ था।

अधिकारी ने बताया कि इस वर्ष के युद्धाभ्यास में वायुसेना के जो 148 विमान भाग लेंगे, उनमें 109 लड़ाकू विमान हैं।

उन्होंने कहा, “जगुआर लड़ाकू विमान, सुखोई-30, मिग-29 लड़ाकू विमान, तेजस लड़ाकू विमान और अन्य विमान वायुशक्ति युद्धाभ्यास-2022 में अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन करेंगे।”

आईएएफ अधिकारी ने आगे कहा, युद्धाभ्यास के दौरान आकाश मिसाइल प्रणाली और स्पाइडर मिसाइल प्रणाली की क्षमताओं को भी प्रदर्शित किया जाएगा। इस अभ्यास में परिवहन विमान सी17 और सी130जे भी भाग लेंगे।